Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

ED ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को आठवीं बार पूछताछ के लिए बुलाया

रांची : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को आठवां समन जारी कर रांची जमीन घोटाला मामले में पूछताछ के लिए एक सप्ताह के भीतर ईडी कार्यालय बुलाया है। इससे पहले मुख्यमंत्री को सात बार समन भेजा गया था लेकिन वह पूछताछ के लिए नहीं आये लेकिन इस बार ईडी ने उन्हें जवाब के साथ पेश होने को कहा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इससे पहले 5 जनवरी को ईडी ने जमीन घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में हेमंत सोरेन से पूछताछ करने के लिए पत्र लिखा था। ईडी ने कहा था कि हेमंत सोरेन इस मामले में जांच अधिकारी को अपनी सुविधा के अनुसार तारीख और स्थान आदि के बारे में सूचित करें ताकि उनका बयान दर्ज किया जा सके। ईडी ने मुख्यमंत्री को अब तक सात बार तलब किया है लेकिन वह किसी भी समन पर ईडी के सामने पेश नहीं हुए हैं। इस दौरान दोनों तरफ से लगातार पत्र व्यवहार होता रहा। अभी तक मुख्यमंत्री ने केवल पत्र भेजकर ही जवाब दिया है।

इधर, गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे ने सोशल मीडिया साइट एक्स पर ट्वीट कर कहा कि झारखंड के मुख्यमंत्री के लिए आठवां समन कोई मायने नहीं रखता। अरविंद केजरीवाल शोर मचा रहे हैं लेकिन हमारे मुख्यमंत्री चुपचाप सर्दी काट रहे हैं।’ कम से कम शिबू सोरेन का तो सम्मान करें। इस्तीफा दें और एजेंसियों के सवालों का जवाब दें।

ED called Hemant Soren