Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

विधानसभा विशेष सत्र के दौरान सरयू राय ने बन्ना गुप्ता को कहा भ्रष्ट मंत्री

रांची : झारखंड विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान निर्दलीय विधायक सरयू राय ने स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता को भ्रष्ट मंत्री बताया। कहा कि मंत्री अपने भ्रष्ट आचरण का सबूत दे रहे हैं, लेकिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। सरयू राय के बोलते ही सदन में खूब हंगामा हुआ। सरयू राय जब गुस्से में आ गए तो स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता अपनी सीट पर बैठ गए।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

हालांकि, बन्ना गुप्ता ने भी सरयू राय के बयान पर आपत्ति जताई और अध्यक्ष से इसे सदन की कार्यवाही से हटाने की मांग की। साथ ही सरयू राय के खिलाफ अवमानना ​​का मामला दर्ज करने का भी आग्रह किया। बन्ना गुप्ता ने सरयू राय को चुनौती दी और उनसे अपने खिलाफ भ्रष्टाचार का सबूत देने को कहा।

इधर, दुमका में हाल की घटनाओं के बारे में पत्रकारों द्वारा पूछे जाने पर झामुमो विधायक बसंत सोरेन ने कहा कि पूरे राज्य में घटनाएं हो रही हैं। उनसे सिर्फ दुमका में ही क्यों पूछा जा रहा है? पीड़ित परिवार से नहीं मिलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह रायपुर में हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

रविवार को लौटे हैं और सोमवार को सिर्फ विधानसभा का सत्र था। अब वह दुमका जाएंगे और पीड़ित परिवारों से मुलाकात करेंगे। बाबूलाल मरांडी के आरोप पर बसंत ने कहा कि वह उन पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। वे अपने आप में एक टिप्पणी हैं। उन्होंने दावा किया कि सरकार को कोई खतरा नहीं है। यह विश्वास मत प्राप्त करके भी साबित हुआ है।