Breaking :
||IPL 2024 शुरू होने से पहले ही विकेटकीपर बल्लेबाज रॉबिन मिंज सड़क दुर्घटना में घायल||स्पेनिश महिला पर्यटक से सामूहिक दुष्कर्म के तीन आरोपियों को भेजा गया जेल, पीड़ित दंपति का कोर्ट में बयान दर्ज||लातेहार: मनिका में संदेहास्पद स्थिति में पेड़ से लटका मिला युवक का शव||झारखंड में सात IAS अफसरों का टांस्फर-पोस्टिंग, रमेश घोलप बने चतरा डीसी||गढ़वा जाने के क्रम में लातेहार पहुंचे सीएम चम्पाई सोरेन, कहा- बैद्यनाथ राम को मंत्री बनाने पर फैसला जल्द||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में लगातार हो रहे हमले के विरोध में 1 मार्च को हड़ताल पर रहेंगे डॉक्टर

रांची राज्य में डॉक्टरों पर लगातार हो रहे हमले से झासा में आक्रोश है। हाल ही में हुई घटना को लेकर रविवार को आईएमए भवन में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, झासा और सरकारी डॉक्टरों की आपात बैठक हुई, जहां डॉक्टरों का गुस्सा फूट पड़ा।

आईएमए व झासा की संयुक्त बैठक में निर्णय लिया गया कि एक मार्च को प्रदेश भर के चिकित्सक हड़ताल पर रहेंगे। गढ़वा में चिकित्सकों पर हमले की घटना को लेकर आंदोलन तेज हो गया है। गढ़वा में डॉक्टर पहले से ही अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। आपात सेवाओं को छोड़कर अब पूरे प्रदेश में आंदोलन की तैयारी है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

डॉक्टरों का कहना है कि जामताड़ा, धनबाद, हजारीबाग और अब रांची की घटना के बाद से वे आक्रोशित हैं क्योंकि सरकार ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। डॉक्टरों के प्रति सरकार का रवैया उदासीन है, इसलिए उन्हें ऐसा कदम उठाना पड़ रहा है।

आईएमए ने हजारीबाग में डॉक्टर से बदसलूकी की घटना के आरोपी अधिकारी डीडीसी को हटाने की मांग की है।

सिविल सर्जन कार्यालय गढ़वा में सिविल सर्जन सदर अस्पताल के डीएस व जिला कार्यक्रम प्रबंधक के साथ गाली-गलौज कर मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया। इसके विरोध में 25 फरवरी को गढ़वा में चिकित्सक अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गये। यह भी मांग की गयी कि अगर 72 घंटे में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो पूरे प्रदेश में आंदोलन किया जायेगा। इसके तहत 1 मार्च को डॉक्टर हड़ताल पर रहेंगे। इस दौरान अस्पतालों में सिर्फ इमरजेंसी सेवा चालू रहेगी।

झारखंड डॉक्टर हड़ताल न्यूज