Breaking :
||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत||लातेहार: बारियातू में पेड़ से लटका मिला महिला का शव, जांच में जुटी पुलिस||गुमला में TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार और जिंदा कारतूस समेत अन्य सामान बरामद||चतरा: नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, दो सिलेंडर बम बरामद||मनी लॉन्ड्रिंग मामले में निलंबित मुख्य अभियंता वीरेंद्र राम की जमानत याचिका खारिज, पत्नी व पिता को भी नहीं मिली राहत||नहाय खाय के साथ सूर्योपासना का चार दिवसीय चैती छठ महापर्व शुरू||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में अनुपस्थित 56 मतदान कर्मियों को मिला आखिरी मौका, उपस्थित नहीं हुए तो होगी कार्रवाई
Sunday, April 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

पुलिस मुख्यालय में DGP ने किया झंडोत्तोलन, कहा- इस वर्ष 236 नक्सलियों को किया गया गिरफ्तार

रांची : डीजीपी अजय कुमार सिंह ने मंगलवार को पुलिस मुख्यालय में झंडोत्तोलन किया। उन्होंने सभी को स्वतंत्रता दिवस की बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि झारखंड पुलिस राज्य के आम लोगों को समाज में सम्मान के साथ जीने की परिस्थितियां पैदा करने के साथ-साथ राज्य को विकास की ओर अग्रसर करने के लिए अनुकूल वातावरण बनाने में पूर्ण सहयोग के लिए कटिबद्ध है।

डीजीपी ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि झारखंड में नक्सलियों, अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों की ओर से समय-समय पर माहौल और परिवेश को बिगाड़ कर अशान्ति फैलाने का प्रयास किया जाता रहा है लेकिन हम सभी ने नक्सलियों के विरुद्ध लगातार अभियान चलाकर उन्हें दुबकने को मजबूर कर दिया तथा अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों पर नकेल कसने में कामयाबी पायी। अब हम सभी की ये नैतिक जिम्मेदारी है कि राज्य में शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए हम सदैव सतर्क एवं कृत संकल्पित रहें।

उन्होंने बताया कि नक्सली अभियान के कम में इस वर्ष 236 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें सैक सदस्य एक, रीजनल कमेटी सदस्य एक, जोनल कमांडर चार, सब जोनल कमांडर पांच एवं एरिया कमांडर स्तर के छह हार्डकोर नक्सली शामिल हैं। साथ ही इन उग्रवादी संगठनों का काफी क्षति हुई है। इस दौरान पुलिस हथियार 20, रेगुलर हथियार 10, देशी हथियार 75 कारतूस 9162, आईईडी 92 तथा आठ लाख 42 हजार लेवी राशि की बरामद की गयी है। इस वर्ष माह जून तक 16 मुठभेड़ की घटनाओं में विभिन्न नक्सली संगठन के नौ नक्सली मारे गये हैं।

डीजीपी ने कहा कि साइबर क्राइम से संबंधित शिकायत दर्ज करने के लिए डेडिकेटेड टोल फ्री नंबर 1930 को अधिकृत किया गया है। 1930 में अब तक कुल 10802 शिकायत दर्ज हुए हैं, जिनमें चार करोड़ तेरह लाख सोलह हजार (4,13,16,000) रुपये को ब्लॉक किया गया तथा उन रुपये को पीड़ित को लौटाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गयी है।

वर्ष 2022 से जून 2023 तक राज्य भर में कुल 1423 कांड प्रतिवेदित किये गये तथा कुल 780 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। इसके अतिरिक्त साइबर अपराधियों के पास से 1469 मोबाइल, 2226 सिम, एटीएम 576, पासबुक 91. चेक बुक 53, लैपटॉप 27, बाइक 78 चार पहिया वाहन 9 स्वाइप मशीन 12 राउटर 5 अन्य 111 एवं नकदी उनतीस लाख उनतीस हजार एक सौ तीन रुपये (29,29,103 ) बरामद किया जा चुका है। नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल के माध्यम से कुल 5139 नंबरों को ब्लॉक कराया गया है।

उन्होंने कहा कि अवैध मानव व्यापार की रोकथाम के लिए पूर्व से आठ जिलों में एएचटीयू (एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग युनिट) थाने कार्यरत थे। वर्तमान में राज्य के सभी 24 जिलों में एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग युनिट थानों का सृजन किया गया है। राज्य के (खूंटी एवं रामगढ़ जिला को छोड़कर) शेष 22 जिला मुख्यालय में एक-एक कुल 22 ई-एफआईआर थाना का सृजन किया गया है।