Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

गढ़वा में अपहरण के बाद दलित नाबालिग से दुष्कर्म, आरोपी फरार

झारखंड में दुष्कर्म की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। गढ़वा के बरडीहा क्षेत्र के एक गांव से एक दलित नाबालिग के अपहरण कर दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोपी दूसरे समुदाय का है। पीड़िता के बयान पर पुलिस ने आरोपी इरशाद खान के खिलाफ मामला दर्ज कर रविवार को जांच शुरू कर दी। घटना के बाद से आरोपी फरार है।

पीड़िता ने बताया कि छह सितंबर की शाम को इरशाद और उसके एक साथी ने बाइक से उसका अपहरण कर लिया। रास्ते में दोनों ने उसे कुछ सूंघा दिया, जिसके बाद वह बेहोश हो गई। जब उसे होश आया तो उसने खुद को एक कमरे में बंद पाया। इसके बाद इरशाद ने परिवार को जान से मारने की धमकी देकर और बंदूक का डर दिखाकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। विरोध करने पर मारपीट भी की गई।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दो दिन बाद उसे बताया गया कि उसकी मां से बात हुई है। मेरे आदमी तुम्हें मझियांव छोड़ देंगे। अगर इस घटना के बारे में किसी और को बताया तो मैं तुम्हें और तुम्हारी मां को मार डालूंगा। उन्हें नौ सितंबर को बकोइया-मझियांव सीमा पर लाल रंग की कार में उतारा गया। वहां उसकी मां मौजूद थी। अपहरणकर्ता ने मां को बुलाया था। कार में मौजूद लोगों के पास बंदूकें भी थीं, कार से उतरने के बाद वह अपनी मां के साथ नानी के घर चली गई।

वहां पहुंचकर उन्होंने अपने परिजनों को सूचना दी। पहले तो वह डर के मारे थाने में शिकायत दर्ज नहीं करा रही थी। परिजनों के कहने पर रविवार को वह थाने पहुंची और मामला दर्ज कराया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

गढ़वा एसपी अंजनी कुमार झा ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है। पीड़िता का आरोप है कि इरशाद खान नाम के शख्स ने उसका अपहरण कर जबरन दुष्कर्म किया। पीड़िता के अपहरण में इरशाद के साथ एक अन्य व्यक्ति भी शामिल था, जिसे वह नहीं पहचानती। आरोपी भी पीड़िता के गांव का ही रहने वाला है। एसपी ने बताया कि घटना कुछ समय पहले की है।