Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडपलामूपलामू प्रमंडल

माओवादी हमले में शहीद पलामू के लाल अमित तिवारी के अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़ी लोगों की भीड़

पलामू : पश्चिमी सिंहभूम के चाईबासा जिले के टोटो थाना क्षेत्र में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में झारखंड जगुआर के सब-इंस्पेक्टर अमित तिवारी और हवलदार गौतम कुमार ने अपने प्राणों की आहुति दे दी। बुधवार को सब इंस्पेक्टर अमित कुमार तिवारी के अंतिम दर्शन के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंगलवार की रात करीब दो बजे उनका शव पैतृक गांव पलामू के तोलरा पहुंचा।

शहीद अमित तिवारी का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ तोलरा स्थित कोयल नदी तट पर किया जायेगा। शवयात्रा पैतृक घर से निकलकर कोयल नदी तट तक जायेगी। अंतिम संस्कार के दौरान पलामू सांसद विष्णुदयाल राम, आईजी राजकुमार लकड़ा, सीआरपीएफ डीआइजी पंकज कुमार, पलामू एसपी रिष्मा रमेशन, एसडीपीओ सुजीत कुमार समेत कई आला अधिकारी मौजूद रहेंगे।

गौरतलब है कि अमित तिवारी 2012 बैच के सब इंस्पेक्टर थे और पिछले कुछ महीनों से झारखंड जगुआर में तैनात थे।