Breaking :
||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची||लातेहार जिले के लिए गौरव भरा पल…राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर राज्यपाल ने डीसी को किया सम्मानित||पलामू में अंतरराज्यीय गिरोह के नौ अपराधी गिरफ्तार, दो करोड़ की रंगदारी मांगने सहित आधा दर्जन मामलों का खुलासा||25 लाख के इनामी माओवादी नवीन यादव ने किया आत्मसमर्पण, 100 से अधिक बड़े नक्सली हमलों में रहा है शामिल||मतदाता सूची सुधार एवं आधार प्रमाणीकरण कार्य में लातेहार जिला झारखंड में अव्वल, डीसी होंगे सम्मानित||पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया PLFI का एरिया कमांडर, हथियार बरामद

पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार

पलामू : पुलिस ने भाकपा माओवादी के कुख्यात सब जोनल कमांडर नारायण यादव को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस को कई मामलों में इसकी तलाश थी।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार सब जोनल कमांडर नारायण यादव पिता बंधु यादव ग्राम लावादाग, छतरपुर का रहने वाला है, जो पिछले कुछ दिनों से ठेकेदार, व्यवसायियों व शिक्षकों को फोन से धमकी देकर लेवी की वसूली कर रहा था। जिससे उन लोगों में इसके प्रति भय व्याप्त था।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसी दौरान पुलिस को गुप्त सूचना मिली। जिसके आधार पर छतरपुर थाना पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए थाना क्षेत्र के काला पहाड़ स्थित गोरिया जंगल से उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इसके पास से धमकी देकर वसूली किए जाने में प्रयुक्त मोबाइल बरामद किया है।

पलामू पुलिस पिछले कई माह से इस कुख्यात माओवादी की तलाश कर रही थी। जिले के विभिन्न थाने में दर्ज कई मामलों में पुलिस इसकी तलाश कर रही थी। पुलिस ने बताया कि अलग-अलग मामलों में इसकी पत्नी बसंती देवी व साला कमलेश यादव को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

आगे बताया कि पूर्व के मामलों में जमानत पर रिहा होने के बाद नारायण यादव अपने नक्सली होने के प्रभाव का धौस क्षेत्र में जमा रहा था और काला पहाड़ के जंगलों में रहकर फोन से धमकी देकर रिश्तेदारों के माध्यम से लेवी वसूल कर रिश्तेदारों के बैंक खाते में लेवी का पैसा जमा करता था।