Breaking :
||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

चारा घोटाला मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, 52 आरोपियों को तीन साल की सजा, 35 रिहा

रांची : चारा घोटाला कांड संख्या (आरसी 48ए/96) डोरंडा कोषागार मामले में विशेष सीबीआई न्यायाधीश विशाल श्रीवास्तव की अदालत ने सोमवार को फैसला सुनाया। अदालत ने कुल 124 आरोपियों में से 52 को तीन साल की सजा सुनायी, जबकि 35 को बरी कर दिया गया। जबकि 37 अन्य को तीन साल से ज्यादा की सजा सुनायी गयी है।

चारा घोटाला मामले में जिन 35 आरोपियों को कोर्ट ने रिहा किया है, उनमें कई डॉक्टर और सप्लायर भी शामिल हैं। तीन साल से अधिक की सजा पाने वाले आरोपियों को कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। इन लोगों की सजा पर कोर्ट 1 सितंबर को विस्तृत फैसला सुनायेगी।

कोर्ट ने 24 जुलाई को सभी पक्षों की सुनवाई पूरी कर ली थी और फैसले के लिए आज की तारीख तय करते हुए सभी आरोपियों को शारीरिक रूप से उपस्थित रहने का निर्देश दिया था।

वर्ष 1990-91 से 1994-95 के बीच फर्जी आवंटन पत्र के आधार पर डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी की गयी थी। इस मामले में कुल 124 आरोपियों में से 38 लोक सेवक रहे हैं, जिनमें से आठ ट्रेजरी अधिकारी हैं जबकि 86 आपूर्तिकर्ता थे।

कोर्ट ने इनको किया बरी

जिन 35 लोगों को कोर्ट ने इस मामले में बरी कर दिया, उनमें एनुल हक, राजेंद्र पांडेय, राम सेवक साहू, दीनानाथ सहाय, साकेत, हरीश खन्ना, कैलाश मनी कश्यप बरी, बलदेव साहू, सिद्धार्थ कुमार, निर्मला प्रसाद, अनीता कुमारी, एकराम, मो हुसैन, सनाउल हक, सैरु निशा, चंचला सिन्हा, ज्योति कक्कड़, सरस्वती देवी, रामावतार सिन्हा, रीमा बड़ाईक और मधु पाठक के नाम शामिल हैं।