Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड सरकार द्वारा नगर निकाय चुनाव नहीं कराये जाने पर हाई कोर्ट में अवमानना याचिका दायर

रांची : रांची नगर निगम की पूर्व पार्षद रोशनी खलको ने राज्य सरकार द्वारा नगर निगम चुनाव नहीं कराने पर झारखंड हाई कोर्ट में अवमानना याचिका दायर की है। याचिकाकर्ता की ओर से वकील विनोद सिंह ने याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि झारखंड सरकार द्वारा स्थानीय निकायों का चुनाव नहीं कराना सुप्रीम कोर्ट के आदेश और संविधान के प्रावधानों का उल्लंघन है।

याचिकाकर्ता का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के स्पष्ट आदेश के बावजूद सरकार आधी-अधूरी बातों से कोर्ट के साथ-साथ जनता का भी समय बर्बाद कर रही है और सुप्रीम कोर्ट के आदेश का अपमान कर रही है। सरकार कह रही है कि ट्रिपल टेस्ट कराने के बाद ही निकाय या पंचायत चुनाव कराये जायेंगे, लेकिन संविधान में प्रावधान है कि अगर लंबे समय तक ट्रिपल टेस्ट नहीं कराया गया है तो निकाय चुनाव को लंबित नहीं रखा जाना चाहिए।

Jharkhand High Court municipal election