Breaking :
||पलामू: पत्नी के लिए मिठाई लाने जा रहे युवक को बाइक ने मारी टक्कर, मौत||लातेहार: थर्ड रेल लाइन निर्माण स्थल पर नक्सलियों ने मचाया उत्पात, रेलवे पुल निर्माण में लगे पोकलेन, हाइवा और कार को फूंका, देखें तस्वीरें||लातेहार: चंदवा में डीलर से रंगदारी मांगने और जान से मारने की धमकी देने पहुंचे दो अपराधी हथियार के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड हाई कोर्ट में कल 11 बजे के बाद नहीं होंगे न्यायिक कार्य||झारखंड में 30 सितंबर तक होगी बारिश, येलो अलर्ट जारी, वज्रपात से सावधान रहने की अपील||साइबर क्राइम के टॉप 10 जिलों में झारखंड के चार जिले, रांची, लातेहार समेत ये जिले साइबर क्राइम के हब||भाजपा ने हेमंत सोरेन पर लगाया बड़ा आरोप, कहा- मुख्यमंत्री ने जानबूझकर हाईकोर्ट में दायर याचिका में छोड़ी खामी||झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स का वार्षिक आम चुनाव संपन्न, ज्योति कुमारी को मिले सर्वाधिक 1845 वोट||संबलपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस में लूट: यात्रियों के फर्द बयान पर FIR दर्ज||रांची: महिला से ठगी के चार आरोपी गिरफ्तार, ठगे थे एक करोड़ 12 लाख रुपये
Wednesday, September 27, 2023
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कांग्रेस नेता बंधू तिर्की ने कार्यकर्ताओं को ललकारा कहा- जरुरत पड़े तो भाजपाइयों को पटक-पटक कर मारो

रांची: झारखंड राजभवन के सामने सोमवार को सत्ता पक्ष के महाधरना ने राज्य में चल रहे राजनीतिक आंदोलन को और तेज कर दिया। गठबंधन के वरिष्ठ नेताओं सहित राज्य सरकार के मंत्रियों ने भी महाधरना में भाग लिया। इस दौरान मुख्य रूप से राजभवन, केंद्रीय एजेंसियों, केंद्र सरकार और बीजेपी को निशाना बनाया गया। महाधरना के दौरान भारी भीड़ जमा हो गयी, जिससे अफरातफरी का माहौल हो गया।

मौके पर मौजूद नेताओं ने कार्यकर्ताओं को जमकर ललकारा और साजिश का मुकाबला करने के लिए आगे आने को कहा। राज्य सरकार के मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने तो यहां तक ​​कह दिया कि अगर वह राज्य सरकार के विकास में बाधा डालते हैं तो उनकी टांग तोड़ दी जाएगी। कहा- हम पीछे नहीं हटने वाले हैं। लोकतंत्र में लोग भगवान होते हैं। हेमंत सोरेन का जनादेश जनता ने पूरे पांच साल के लिए सरकार को दिया है। हमें पांच साल तक सरकार चलाने का हक़ और अधिकार दिया गया है। हम पीछे हटने वाले नहीं हैं। अगर वे राज्य के विकास में बाधा डालते हैं, तो हम पैर तोड़ देंगे।

जरुरत पड़े तो पटक-पटक कर मारो : बंधु तिर्की

कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष और मांडर के पूर्व विधायक बंधु तिर्की ने महाधरना के दौरान कहा कि गलती करने वाले को फटकारने का काम भी कार्यकर्ता ही करें। रायपुर में राज्यपाल द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली भाषा को माफ नहीं किया जाता है। बंधू तिर्की ने कहा- हम जांच के खिलाफ नहीं हैं, हम भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं, लेकिन अगर आप राजनीतिक प्रतिशोध में काम करते हैं, तो आप कुचले जाएंगे। यह कोई मामूली बात नहीं है। सभी लोग एकजुट। भाजपा के काले कारनामों को बेनकाब करने का काम करें। यदि जरुरत पड़े तो पटक-पटक कर मारो।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

साथ ही कहा कि अब मेरी बातों की आलोचना की जाएगी। लोग मेरी भाषा को अशोभनीय बताएंगे। हमें छह लाख के लिए अयोग्य घोषित कर दिया। हिम्मत हो तो बीजेपी वालों की जांच कराओ। ये लोग तैयार कर रहे हैं 2024 का ताना-बान।. तैयार हो जाइए, इस बार पता चलेगा। पूरा होगा हेमंत सोरेन का कार्यकाल, किसी की सलाह पर नहीं चलेगी सरकार हमें कोर्ट पर पूरा भरोसा है। कोर्ट से आगे न्याय मिलेगा। भाजपा के लोग खुद वकील और जज बनते हैं।

बंधु के बयान पर बीजेपी का पलटवार

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा उपाध्यक्ष रघुवर दास और प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव समेत अन्य नेताओं ने पूर्व मंत्री बंधु तिर्की के अपशब्दों पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा- पहले भ्रष्टाचार करो, पकड़े गए तो हिंसा भड़काओ। कांग्रेस को नहीं पता कि भाजपा कार्यकर्ता किस मिट्टी के बने हैं। केरल-बंगाल में हिंसा से हमें डर नहीं लगा है। बीजेपी कार्यकर्ता अब मार नहीं खाता, देता है बराबर का जवाब, गलती से हाथ मत लगाना।