Breaking :
||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

लातेहार डीएसई के भ्रष्टाचार के खिलाफ लोकायुक्त में शिकायत

latehar dse news

समाजसेवी रवि डे ने की शिकायत, लगाये कई गंभीर आरोप

लातेहार के डीएसई सह डीईओ निर्मला बरेलिया के भ्रष्टाचार में संलिप्त रहने के खिलाफ रांची के लोकायुक्त से शिकायत की गई है। लातेहार के समाजसेवी रवि डे ने शिकायत में कई गंभीर आरोप लगाया है।

उंन्होने शिकायती आवेदन में कहा है कि डीएसई अपने पद का दुरुपयोग करते हुए हेरहंज के बीआरपी निरंजन कुमार सिंह के साथ मिलकर लातेहार शिक्षा विभाग में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंचा दिया है।

डीएसई – डीईओ ऑफिस में बिना घुस के कोई काम नही होता है। डीएसई के द्वारा उच्च विद्यालय विकास कोष का दुरुपयोग खुलेआम किया गया है। विद्यालयों में सोफासेट, वीआईपी कुर्सी और कारपेट खरीदा जा रहा है। जबकि विद्यालयों में पुस्तकालय, प्रयोगशाला के सामान, कम्प्यूटर आदि की आवश्यकता है।

डीएसई विद्यालय विकास अनुदान एवं छात्र विकास कोष की राशि से बीआरपी निरंजन से मिलकर विद्यालयों में जबर्दस्ती घटिया सामानों की आपूर्ति कराते हैं और डीईओ सह डीएसई और सीओएम के नाम पर पांच से दस प्रतिशत तक की अवैध वसूली विद्यालय अनुदान की राशि से की जा रही है।

लातेहार जिले के हेरहंज प्रखण्ड के बीआरपी के द्वारा बच्चों को दो सेट की जगह एक सेट पोषाक तथा विद्यालय किट में मात्र दो पीस कॉपी व एक पेंसिल की आपूर्ति की गई है और शिक्षकों को डरा धमका कर आपूर्ति की पूरी राशि का भुगतान करा लिया गया है। वहीं जीएसटी और टैक्स की चोरी भी कर ली गई है।

डीएसई के द्वारा शिक्षकों का वेतन बन्द कर तथा अन्य कार्यो में अवैध वसूली लगातार की जा रही है। डीएसई ऑफिस में एमडीएम सेल में कार्यरत कम्प्यूटर ऑपरेटर अली अख्तर के साथ डीएसई के साथ लेन देन में खटपट होने के कारण नोट शीट लिख कर शिक्षकों से की गई अवैध वसूली को वापस करने के लिए डीएसई के समाने प्रस्तुत किया है। उंन्होने लोकायुक्त से निष्पक्ष जांच कर डीएसई निर्मला बरेलिया और बीआरपी निरंजन के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करने की मांग की है।

latehar dse news

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *