Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत

रांची : कांग्रेस-झामुमो के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (सीईओ) के. रवि कुमार से मिलकर गोड्डा प्रत्याशी सह सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी। साथ ही आग्रह किया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए भाजपा प्रत्याशी निशिकांत दुबे पर चुनाव को नकारात्मक रूप से प्रभावित करने तथा आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में कानूनी कार्रवाई की जाये।

प्रतिनिधिमंडल ने शिकायत में कहा कि 23 मई को गोड्डा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी निशिकांत दुबे ने गोड्डा संसदीय क्षेत्र अन्तर्गत जरमुण्डी विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायक सह कृषि मंत्री बादल पत्रलेख एवं मधुपुर विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायक सह मंत्री हफीजुल हसन को ईडी का समन दिये जाने संबंधी बयान दिया था। कुछ न्यूज चैनलों में भी बादल पत्रलेख एवं हफीजुल हसन को ईडी का समन जारी किए जाने की खबरें प्रसारित की गयी लेकिन इस मामले में ईडी के अधिकारियों ने न ही अधिकारिक रूप से पुष्टि की और न ही इसका खंडन किया जबकि ईडी का कोई समन बादल पत्रलेख एवं हफीजुल हसन को नहीं दिया गया है।

मंत्री बादल पत्रलेख एवं हफीजुल हसन की आम जनता के बीच अच्छी लोकप्रियता है। इसलिए भाजपा प्रत्याशी निशिकांत दुबे के जरिये एक सोची-समझी साजिश के तहत चुनाव को नकारात्मक रूप से प्रभावित करने की नीयत से मंत्री बादल पत्रलेख एवं हफीजुल हसन को भ्रष्टाचार से जोड़ते हुए गलत खबर प्रमुखता से प्रसारित की गयी। साथ ही गोड्डा लोकसभा क्षेत्र की जनता के बीच इंडिया गठबंधन के घटक दल कांग्रेस और झामुमो के प्रति नकारात्मक छवि बनाने के लिए साजिश रची गयी।

प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप से प्रदेश कांग्रेस के संगठन महासचिव अमुल्य नीरज खलखो, प्रदेश महासचिव सह मीडिया प्रभारी राकेश सिन्हा, झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य और प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता कमल ठाकुर शामिल थे।

Jharkhand Breaking News Today