Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: महाशिवरात्रि पर बने तोरण द्वार विवाद में दो गुटों में झड़प, उपायुक्त ने की शांति बनाये रखने की अपील, निषेधाज्ञा लागू

अरुनीष सिंह/पलामू

पलामू : जिले के पांकी क्षेत्र में महाशिवरात्रि पर बने तोरण द्वार विवाद में बुधवार को दो गुट आपस में भिड़ गये। दो गुटों के बीच जमकर पथराव हुआ है। बीच बचाव करने गये पुलिस कर्मी भी घायल हो गये। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस के वरीय अधिकारी मौके पर पहुंचे। इसके अलावा पलामू एसपी चंदन कुमार सिन्हा खुद मौके पर कैंप कर रहे हैं।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार पलामू के पांकी क्षेत्र में महाशिवरात्रि के लिए तोरण द्वार को लेकर दो गुटों में विवाद हो गया। इस विवाद को लेकर बुधवार को दोनों गुट जमा हो गये। इसी दौरान उनके बीच विवाद बढ़ गया और दोनों पक्षों से जमकर पथराव हुआ। इस पथराव में 12 से ज्यादा लोग घायल हो गये। जबकि मौके पर बचाव के लिए पहुंची पुलिस पर भी पथराव हुआ, जिसमें कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गये।

लेस्लीगंज एसडीपीओ आलोक कुमार टूटी ने बताया कि कई थानों की पुलिस मौके पर स्थिति संभाल रही है। पांकी इंस्पेक्टर अरुण कुमार महथा व थाना प्रभारी रंजीत कुमार यादव के नेतृत्व में मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। पांकी के लिए आसपास के इलाकों से भी भारी संख्या में पुलिस बल भेजा गया है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि मौके पर पेट्रोल-बम का भी इस्तेमाल किया गया है। ग्रामीणों के अनुसार पांकी चौक के पास तोरणा गेट निर्माण को लेकर मंगलवार को यह विवाद हुआ। बुधवार को विवाद और बढ़ गया।

घायल लोगों को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं पुलिसकर्मियों का भी इलाज चल रहा है। जिस इलाके में यह घटना हुई वह पलामू प्रमंडल मुख्यालय मेदिनीनगर से करीब 45 किलोमीटर दूर है। जिला मुख्यालय से बड़ी संख्या में प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी भी पहुंच चुके हैं। पुलिस ने पूरे इलाके में पेट्रोलिंग शुरू कर दी है। इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पांकी, पिपराटांड़, तरहसी, मनातू समेत कई थानों की पुलिस को इलाके में तैनात किया गया है।

उपायुक्त ने लोगों से की शांति बनाये रखने की अपील

पांकी में बुधवार को दो गुटों के बीच हुए तनाव के बाद उपायुक्त अंजनेयुलु दोड्डे ने लोगों से किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है। सोशल मीडिया पर कोई अफवाह फैलाता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

निषेधाज्ञा लागू

बहरहाल, विवाद के कारण उत्पन्न हुई कानून-व्यवस्था की स्थिति शांतिपूर्ण और नियंत्रण में है। जिला प्रशासन स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए है। पुलिस पदाधिकारी सहित प्रशासनिक अधिकारी फोर्स के साथ घटना स्थल पर डेरा डाले हुए हैं। पूरे इलाके में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गयी है। सोशल मीडिया पर भी कड़ी निगरानी की जा रही है।

पलामू पांकी तनाव झड़प