Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडसंथाल परगना

दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प

दुमका : नगर थाना क्षेत्र के जरुवाडीह मोहल्ले में रविवार की दोपहर सरस्वती पूजा का मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे वाले गाने बजाने को लेकर दो अलग-अलग समुदाय के लोगों में झड़प हो गयी। एक समुदाय ने दूसरे समुदाय के लोगों के खिलाफ थाने में लिखित शिकायत की है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मामले में हिन्दू पक्ष ने कहा है कि सरस्वती मूर्ति के विसर्जन के दौरान जय श्रीराम के नारे वाले गाने बजाने पर आपत्ति जताते हुए डीजे के साथ तोड़-फोड़ की गयी। लोगों का कहना है कि अल्प संख्यक समुदाय के लोगों ने गाना बंद नहीं करने पर मिनी पाकिस्तान बना देने की बात कही। पुलिस को दी गयी लिखित शिकायत में कहा गया है कि हर बार ऐसे ही धार्मिक अनुष्ठानों में बाधा पहुंचाया जाता है। पिछले साल भी इसी प्रकार विवाद हुआ था। उन्होंने आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।

नगर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर नवल किशोर सिंह ने बताया कि दो पक्षों में मारपीट की घटना की सूचना मिली थी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पा लिया है। अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की गयी है। पुलिस लिखित शिकायत पर कार्रवाई कर रही है।

सदर प्रखंड के अंचलाधिकारी यमुना रविदास ने बताया कि बच्चों के बीच सरस्वती पूजा को लेकर आने-जाने के क्रम में विवाद हुआ है। किसी प्रकार की तनाव का माहौल नहीं है। प्रशासन मुस्तैद है।

दो समुदायों में झड़प