Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

रांची: संत जेवियर स्कूल के बच्चों ने बनाया अनोखा हेलमेट, शराब पीने पर स्टार्ट नहीं होगी बाइक

रांची : हर साल न जाने कितने लोग सड़क हादसों में मारे जाते हैं। जिसमें ज्यादातर मामले ड्रिंक एंड ड्राइव के हैं। लेकिन तब क्या जब आप नशे की हालत में हों और आप अपनी बाइक स्टार्ट करने की कोशिश कर रहे हों और आपकी बाइक स्टार्ट न हो।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

ऐसा ही एक हेलमेट रांची के नन्हें छात्रों ने तैयार किया है। बच्चों ने इस हेलमेट में एक खास चिप लगायी है। जिससे शराब के नशे में वाहन चलाने वालों पर नकेल कसी जा सकेगी।

रांची के सेंट जेवियर्स स्कूल के 4 बच्चों ने इस प्रोटोटाइप को तैयार किया है। इन छात्रों ने सेंसर वाले हेलमेट का प्रोटोटाइप तैयार किया है। यदि केवल इस हेलमेट को वास्तविक जीवन में शामिल किया गया होता।

अगर लोग इसका इस्तेमाल करना शुरू कर दें तो न केवल ड्रिंक एंड ड्राइव में कमी आयेगी बल्कि कई लोगों की जान भी बच जायेगी। नशे में बाइक चलाने वाले भी सतर्क हो जायेंगे।

हेलमेट बनाने वाला छात्र भविष्य में एक और चिप विकसित करने का सपना देखता है। जिससे हेलमेट नहीं पहनने पर बाइक स्टार्ट नहीं होगी।

वहीं, स्कूल के वाइस प्रिंसिपल और टीचर ने बताया कि इस अनोखे हेलमेट का प्लान बच्चों ने तैयार किया है. उन्होंने ही उनका मार्गदर्शन किया। शिक्षकों ने कहा कि बच्चों में प्रतिभा भरी होती है, बस इसे सही दिशा देने की जरूरत है।