Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Friday, April 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

शादीशुदा महिला का धर्म परिवर्तन मामले में पलामू पहुंची छत्तीसगढ़ पुलिस, महिला को ले गयी साथ

Palamu Latest News Today

पलामू : छत्तीसगढ़ की आकांक्षा मिश्रा के पलामू में धर्म परिवर्तन कर जुनैब खातून बनाने के मामले में कार्रवाई के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस पलामू पहुंची। पुलिस ने मंगलवार को पूछताछ के बाद केवल लड़की को अपने साथ ले गयी। शहर थाना पुलिस के अनुसार युवक को यहीं छोड़ दिया गया। उसे तरहसी के गुरहा घर भेज दिया गया है।

एक साल पहले युवती का छत्तीसगढ़ के सूरजपुर के रहने वाले नितिन गुप्ता के साथ शादी हुई थी। इसके बावजूद तरहसी थाना क्षेत्र के गुरहा निवासी मो साजिद जो सूरजपुर में रहकर मोटरसाइकिल मैकेनिक का काम करता था, उसे भगा कर अपने घर गुरहा ले आया और यहां आकांक्षा का धर्म परिवर्तन कर उसे जूनैब नाम दे दिया गया। इसके बाद दोनों ने निकाह कर लिया।

आकांक्षा के धर्म परिवर्तन करने और निकाह का प्रमाण पत्र प्रखंड स्तर से बनवाने के लिए किए गये आवेदन पर परिवार वालों को गुरहा पंचायत की मुखिया सब्बा फिरदौस खान और पंचायत सचिव ईश्वरी मांझी के द्वारा अंबिकापुर घर पर भेजे गये नोटिस से मामला सामने आया था, जिसके बाद आकांक्षा के पिता जितेंद्र मिश्रा, पति नितिन गुप्ता, मां और भाई पलामू पहुंचें और पूरे मामले से विधायक शशिभूषण मेहता को अवगत कराया।

सोमवार को आरोपित युवक ने लड़की के साथ पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया था। सोमवार को ही भाजपा और हिंदूवादी संगठनों ने इसे लव जिहाद बताते हुए मेदिनीनगर शहर थाना से लेकर समाहरणालय तक प्रदर्शन किया। इसका नेतृत्व पांकी विधायक डा. शशिभूषण मेहता ने किया था। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर की रहने वाली आकांक्षा पहले से शादीशुदा है। लव मैरिज शादी हुई थी।

उल्लेखनीय है कि आकांक्षा मिश्रा 18 जून को भिलाई में बीएड कॉलेज जाने के लिए निकली थी। 22 जून की शाम से उसका फोन बंद हो गया। इसके बाद साजिद के साथ उसके होने की बात पता लगी। पिता जितेंद्र मिश्रा बेटी घर वापसी पर अड़े थे। लगातार कह रह थे मर जायेंगे लेकिन धर्मांतरण नहीं करेंगे।

Palamu Latest News Today