Breaking :
||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत||बालूमाथ: शार्ट सर्किट से हाइवा वाहन में लगी आग, जलकर राख||बालूमाथ: महिला का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ठगे सात लाख रुपये, गिरफ्तार||बालूमाथ: सरस्वती पूजा को लेकर निकाली गयी शोभायात्रा पर मधुमक्खियों का हमला, मची अफरा-तफरी||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा पांच हाइवा जब्त, तीन गिरफ्तार||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची

केंद्र की झारखंड को चेतावनी, कहा- डीवीसी का बकाया चुकाओ, नहीं तो जारी रहेगी बिजली कटौती

रांची: झारखंड सरकार और केंद्र की बिजली को लेकर खींचतान सुलझने का नाम नहीं ले रही है। केंद्र ने गुरुवार को झारखंड सरकार को साफ शब्दों में चेतावनी दी और कहा कि जब तक झारखंड डीवीसी का बकाया नहीं चुकाता तब तक डीवीसी की बिजली कटौती जारी रहेगी।

जेबीवीएनएल के अधिकारियों के मुताबिक अलग-अलग जिलों में बिजली गुल या नुकसान को ध्यान में रखकर बिजली कटौती की जा रही है। ऐसे इलाकों में जहां बिजली कटौती अधिक होती है, इन इलाकों में बिजली कटौती ज्यादा हो रही है। इस संबंध में कोई लिखित आदेश जारी नहीं किया गया है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

लेकिन सभी उपकेंद्रों में बहाल इंजीनियरों को मौखिक आदेश दे दिए गए हैं। ज्ञात हो कि बिजली गुल होने का मतलब ऐसे इलाकों से है जहां से कम बिजली बिल वसूला जाता है। ऐसे फीडरों से ही बिजली काटी जा रही है।

राजधानी रांची में छह घंटे तक बिजली कटौती हुई है। उच्च बिजली कटौती वाले क्षेत्र रातू रोड, रातू चट्टी, लटमा, कांके, अरसंडे, मंदार, तोरपा, घाघरा, कुडू, टाटीसिल्वे, नामकुम, पिठोरिया, नगड़ी और अन्य क्षेत्र हैं।

इन इलाकों में पांच घंटे तक बिजली कटौती की जाती है। बिजली संकट के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में बिजली कटौती का समय निर्धारित किया गया है।