Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

Jharkhand: प्रेमी ने पांच माह की गर्भवती प्रेमिका को गला दबाकर मार डाला

पश्चिमी सिंहभूम : जिले के मझगांव थाना अंतर्गत घोड़ाबंधा पंचायत के हल्दिया गांव के कुबासाई टोला में प्रेम प्रसंग में मासुरी हेम्ब्रम नाम की 21 वर्षीय लड़की की हत्या कर दी गयी।

रात करीब आठ बजे कुबासाई गांव निवासी पूर्णचंद्र हेम्ब्रम ने अपनी प्रेमिका मसूरी हेम्ब्रम को फोन पर अपने घर से बाहर बुलाया और घर से करीब 500 फीट दूर बादु बांध मांगुलोंगाई कच्छी नहर में ले गया। नहर पर ही गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी।

लड़की की मां मानी कुई ने बताया कि उसकी बेटी को गांव के युवक पूर्णचंद्र हेम्ब्रम ने रात में फोन कर धोखे से बुलाकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

मृतक की मां मानी कुई ने बताया कि उसकी बेटी पांच माह की गर्भवती थी। काफी देर तक जब बेटी घर नहीं लौटी तो रात में काफी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिली। गुरुवार की सुबह करीब 4 बजे जब मानी कुई शौच के लिए नहर की ओर जा रही थी तो उसे बेटी की लाश दिखाई दी। इसके बाद सुबह करीब छह बजे मानी कुई ग्रामीण मुंडा, लक्ष्मण हेम्ब्रम के घर पहुंची और घटना की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि उनकी बेटी के हत्यारे पूर्णचंद्र हेम्ब्रम को मौत की सजा दी जानी चाहिए। घटना की सूचना मिलते ही ग्रामीण मुंडा ने थाने को सूचना दी। सूचना मिलते ही मझगांव पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया.

स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि लड़की का प्रेम प्रसंग चल रहा था और वह 5 महीने की गर्भवती थी। इस वजह से युवती आरोपी प्रेमी पर शादी के लिए दबाव बना रही थी। ग्रामीणों ने बताया कि जब प्रेमी लड़की की हत्या कर रहा था। उस वक्त लड़की जोर-जोर से चिल्ला रही थी, लेकिन जब कुछ गांव वाले उसकी तरफ बढ़े तो युवक ने लोगों के सामने आने से मना कर दिया और कहा कि मैं इस बच्ची को मार रहा हूं। यहाँ मत आना। नहीं तो मैं तुम लोगों को भी मार डालूंगा।

घटना को अंजाम देने के बाद हत्या का आरोपी पूर्णचंद्र हेम्ब्रम खुद ग्रामीण मुंडा के घर पहुंचा और प्रेमिका को मारने की बात कही। उसने ग्रामीण मुंडा से कहा कि मैंने लड़की को जानबूझकर इसलिए मारा क्योंकि वह मुझ पर शादी के लिए दबाव बना रही थी।