Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली
Saturday, May 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

बीजेपी ने इलेक्शन कमीशन को लिखा पत्र, मांडर उपचुनाव में कई बूथों पर गड़बड़ी की शिकायत

रांची : मांडर विधानसभा उपचुनाव में गड़बड़ी होने का आरोप भाजपा ने लगाया है. इसे लेकर निर्वाचयन आयोग को पत्र भी लिखा है. भाजपा ने दो पत्र के माध्यम से बूथों की जानकारी देते हुए बताया है कि किन-किन बूथों में गड़बड़ी हुई है. वहीं सात प्रखंडों के 30 से अधिक बूथों में पुर्नमतदान कराने को कहा है.

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बूथों में असामाजिक तत्वों ने किया कब्जा

भाजपा ने जो पत्र लिखा है, उसमें कहा है कि 23 जून मतदान शुरू होने के एक घंटे बाद ही असामाजिक तत्वों ने जबरन कब्जा कर लिया. इस वजह से बूथ संख्या 82, 84, 85, 95 96 एवं 213 पर भारी गड़बड़ी हुई. बूथ नंबर 82, 84, 85, 95, 96 के मतदाता सूची से वैसे मतदाताओं का नाम हटा दिया गया है, जिन्होंने पंचायत चुनाव 2022 में मतदान किया है. पत्र में लिखा है कि किन परिस्थितियों में मतदाताओं का नाम हटाया गया, इसकी जांच हो. साथ ही लिखा है कि बूथ नंबर 213 में पीठासीन पदाधिकारी की ओर से कांग्रेस के उम्मीदवार को वोट देने के लिए मतदाताओं पर दबाव बनाया जा रहा है.

पत्र के माध्यम से बताया कि पांच जनवरी 2022 को जारी मतदाता सूची के आधार पर पंचायत चुनाव 2022 हुआ था. चुनाव आयोग नई दिल्ली के निर्देशानुसार अप्रैल 2022 से फोटो सिमिलर इंटरीज पर काम किया एवं सिमिलर इंटरीज से एक छोड़कर बाकी को हटाया गया. ऐसे में बूथ संख्या 82 84, 85, 95 96 पर हुई मतदाता सूची में गड़बड़ी की जांच हो और बूथ संख्या 213 के पीठासीन पदाधिकारी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए.

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आम मतदाताओं को बूथ से बिना मतदान के ही भगा दिया

एक अन्य पत्र में निर्वाचन आयोग को बताया है कि आठ पंचायत के 40 से अधिक बूथों में असामाजिक तत्वों ने आम मतदाताओं को बूथ से बिना मतदान के ही भगा दिया. ये सभी अतिसंवेदनशील बूथ थे. इसकी जानकारी पूर्व में ही निर्वाची पदाधिकारी, मांडर विधानसभा, वरीय पुलिस अधीक्षक एवं उपायुक्त, रांची को दी जा चुकी थी. भाजपा ने ऐसे बूथों में फिर से मतदान कराने की मांग की है.

इन बूथों में मतदाताओं को नहीं करने दिया गया मतदान

बेडो प्रखंड बूथ संख्या – 214, 219 220, 240, 287, 291, 288, 293, 294, 299 300, 301, 303

नरकोपी प्रखंड, बूथ संख्या-211 212, 262, 265 266, 278

लापुंग प्रखंड, बूथ संख्या-399, 426, 427 428, 429

चान्हो प्रखंड, बूथ संख्या – 2, 3, 4, 6, 7, 8, 29, 55, 61, 62, 66, 67

बिजुपाडा प्रखंड, बूथ संख्या 58, 60, 68, 72, 79, 86, 87

मांडर प्रखंड, बूथ संख्या-151, 158, 159, 178, 191, 194, 195, 197, 198, 202

टागरबसली प्रखंड, बूथ संख्या-98, 102, 105, 108, 116, 124, 128 129 131 132 134, 168, 172, 175, 203

ईटकी प्रखंड, बूथ संख्या-326 327, 329, 336, 337, 345, 347, 348, 349

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

क्षेत्र की जनता ने जो आशीर्वाद दिया है, उसे वह स्वीकार

पत्रकारों से बात करते हुए भाजपा प्रत्याशी गंगोत्री कुजूर ने कहा कि क्षेत्र की जनता ने जो आशीर्वाद दिया है, उसे स्वीकार है. कहा कि हमेशा जनता के साथ हूं और आगे भी रहूंगी. उन्होंने माना कि पार्टी पहले फैसला लेती, तो परिणाम कुछ और होते. कांग्रेस प्रत्याशी को सत्ता पक्ष के होने का लाभ मिला है. कहा कि हेमशा क्षेत्र की जनता के साथ जुड़ी हूं. चाहे कोरोनाकाल की बात करें या अन्य मामलों में हमेशा जनता के लिए खड़ा रहा. इसके बावजूद जनता ने जो आशीर्वाद दिया, उसे सहर्ष स्वीकार है.