Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में आदिवासियों के लिए आरक्षित पांच लोकसभा सीटों पर भाजपा को झटका

रांची : लोकसभा चुनाव में भाजपा राज्य में आदिवासियों के लिए आरक्षित सभी पांच लोकसभा सीटों से चुनाव हार चुकी है। बस इसकी आधिकारिक घोषणा होनी बाकी है। पांच में से तीन सीटों पर झामुमो और दो सीटों पर कांग्रेस ने जीत हासिल की है। राजमहल, दुमका और सिंहभूम लोकसभा सीट पर झामुमो ने कब्जा जमाया है जबकि खूंटी और लोहरदगा लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है।

इस बार इंडी गठबंधन को झारखंड में 2019 के मुकाबले तीन सीटें ज्यादा मिली हैं। राजमहल और सिंहभूम सीट पर इंडी गठबंधन दोबारा कब्जा जमाने में कामयाब रही। साथ ही भाजपा के हाथ से दुमका, लोहरदगा और खूंटी लोकसभा सीट को झटक लिया है। झारखंड में भाजपा के लिए यह बहुत बड़ा झटका है।

राजमहल लोकसभा सीट से झामुमो के प्रत्याशी विजय हांसदा भाजपा के ताला मरांडी से 112293 वोटों से आगे चल रहे हैं। अबतक जो अपडेट है उसके मुताबिक विजय हांसदा को 461407 वोट मिले हैं जबकि ताला मरांडी को 349214 वोट हासिल हुए।

दुमका लोकसभा सीट से झामुमो के नलिन सोरेन ने शिबू सोरेन की बड़ी बहू सीता सोरेन को मात दी है। नलिन सोरेन सीता से 21589 वोट से आगे चल रहे थे। सीता सोरेन चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुई थीं लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया। सिंहभूम लोकसभा सीट पर भाजपा की शर्मनाक हार हुई है। सिंहभूम से झामुमो की प्रत्याशी जोबा मांझी भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा से 160970 वोट से आगे थीं। गीता कोड़ा सिंहभूम की सीटिंग सांसद हैं। वे चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुई थीं लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया।

लोहरदगा लोकसभा सीट भी भाजपा ने गंवा दी है। कांग्रेस प्रत्याशी सुखदेव भगत भाजपा के समीर उरांव से 1.27 लाख वोट से आगे चल रहे थे। वर्ष 2009 से 2019 तक लगातार इस सीट पर भाजपा का कब्जा था लेकिन इस बार परिवर्तन की लहर चली। भाजपा सबसे अधिक वोट से खूंटी लोकसभा सीट पर चुनाव हारी है। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा खूंटी से 01 लाख 45 हजार से ज्यादा वोटों से पीछे चल रहे थे। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में अर्जुन मुंडा से मात्र 1400 वोट से हारने वाले कांग्रेस के कालीचरण मुंडा ने इस बार उन्हें भारी मतों से पछाड़ा है।

Jharkhand Lok Sabha Election Result 2024