Breaking :
||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा||चतरा के पांच अफीम तस्कर हजारीबाग में गिरफ्तार||झारखंड में 4 IPS अफसरों का तबादला, लातेहार SP के पद पर बने रहेंगे अंजनी अंजन, 27 IPS अधिकारियों का मूवमेंट ऑडर जारी||बालूमाथ के चोरझरिया घाटी में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार की मौत||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार युवक की मौत समेत बालूमाथ की चार खबरें||झारखंड: आग लगने की सूचना पर ट्रेन से कूदे यात्री, झाझा-आसनसोल यात्रियों के ऊपर से गुजरी, 12 की मौत||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पहुंचीं रांची, सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में हुईं शामिल, कहा- दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की राह पर भारत||झारखंड में बिजली हुई महंगी, नयी दरें एक मार्च से होंगी लागू||झारखंड में बड़े पैमाने पर BDO की ट्रांसफर-पोस्टिंग, यहां देखें पूरी लिस्ट
Friday, March 1, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने सीएम हेमंत पर बोला हमला, कहा- ED के डर से हवाई चप्पल पहने चादर से मुंह ढककर चोर की तरह पैदल भागे मुख्यमंत्री

रांची : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने सोमवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरन पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि ईडी के डर के मारे झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पिछले अठारह घंटे से दिल्ली वाले मुख्यमंत्री आवास से फरार हो कर भूमिगत हो गये हैं।

मरांडी ने सोशल मीडिया एक्स पर एक बयान जारी कर कहा कि मीडिया सूत्रों के मुताबिक देर रात हेमंत हवाई चप्पल पहने हुए चादर से मुंह ढककर चोर की तरह आवास से पैदल निकल कर भागे हैं। उनके साथ दिल्ली गये स्पेशल ब्रांच का सुरक्षाकर्मी अजय सिंह भी गायब है। इन दोनों का मोबाइल भी बंद है। तब से इन्हें ईडी और दिल्ली पुलिस ढूंढ रही है। मुख्यमंत्री की सुरक्षा के साथ इतनी बड़ी लापरवाही का कोई दूसरा उदाहरण नहीं हो सकता।

मरांडी ने कहा कि इससे चिंताजनक और लज्जाजनक क्या हो सकता है कि संवैधानिक पद पर बैठा एक राज्य का मुख्यमंत्री प्रोटोकॉल तोड़कर चोर-डकैत की तरह फरार हो जाये, राज्य को भगवान भरोसे छोड़ दे। मुख्यमंत्री की फरारी में राज्य का नेतृत्वकर्ता कौन? यह संवैधानिक सवाल अहम है।

उन्होंने कहा कि राज्यपाल सीपी राधाकृष्णनजी इसका संज्ञान लें और राज्य में विधि सम्मत कानून का राज कायम रखने के लिए समुचित कदम उठायें।

Jharkhand Breaking News Today