Breaking :
||चतरा समेत इन चार लोकसभा सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों को विरोधियों से अधिक अपनों से खतरा||झारखंड: पहले चरण के चुनाव में पलामू समेत इन चार लोकसभा सीटों पर युवा मतदाता निभायेंगे निर्णायक भूमिका||आय से अधिक संपत्ति मामले में निलंबित चीफ इंजीनियर वीरेंद्र राम के पिता और पत्नी के खिलाफ कुर्की वारंट का इश्तेहार जारी||पलामू लोकसभा: शीर्ष माओवादी कमांडर रहे कामेश्वर बैठा समेत तीन उम्मीदवारों ने किया नामांकन||पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जमानत याचिका पर कल होगी सुनवाई||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, शादी समारोह से लौट रही कार पेड़ से टकरायी, पति की मौत, पत्नी और पोते की हालत नाजुक||लातेहार: सिरफिरे युवक ने दो महिलाओं समेत पिता को कुल्हाड़ी से काट डाला, गिरफ्तार||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये
Wednesday, April 24, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

हेमंत सरकार का बड़ा फैसला, झारखंड में 1932 का खतियान लागू, अब ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण

रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज प्रदेश की जनता के हित में बड़ा फैसला लिया है। यह फैसला 1932 के लंबे समय से प्रतीक्षित खतियान से जुड़ा है। आज हुई कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कुल 41 प्रस्तावों को मंजूरी दी। इसमें से 1932 के खतियान को पास करने का फैसला सबसे बड़ा फैसला है। आज लिए गए मंत्रिपरिषद के निर्णय के अनुसार 1932 खतियान के आधार पर स्थानीय नियोजन नीति बनाने का प्रस्ताव पारित किया गया।

ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण

1932 के खतियान के अलावा झारखंड में ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने के फैसले पर भी मुहर लग गई थी। आज की कैबिनेट बैठक में सरकार आरक्षण को लेकर कैबिनेट में एक बिल लेकर आई है। जिसमें अनुसूचित जाति के लिए 12 प्रतिशत, अनुसूचित जनजाति के लिए 28 प्रतिशत, अत्यंत पिछड़े वर्ग के लिए 15 प्रतिशत, पिछड़े वर्ग के लिए 12 प्रतिशत और आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लिए 10 प्रतिशत यानी कुल 77 प्रतिशत आरक्षण किया गया है। अब झारखंड में कुल 77 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा। सामान्य वर्ग के लिए 23 फीसदी सीटें बची हैं।

कैबिनेट के अन्य फैसले

आंगनबाडी केन्द्रों एवं छोटे आंगनबाडी केन्द्रों पर 6000 प्रतिवर्ष व्यय कर क्रय किये जायेंगे बर्तन

प्रदेश के 86 प्रखंडों में 468 करोड़ रुपये से बनेंगे प्रखंड कार्यालय भवन

राज्य में स्टांप शुल्क में 2% की वृद्धि

अब जमीन और फ्लैट की रजिस्ट्रेशन फीस कुल रकम का 9 फीसदी होगी

झारखंड वित्त विधेयक- 2022 के प्रस्ताव को मिली मंजूरी

कोल्हान विश्वविद्यालय के अंतर्गत डिग्री कॉलेज (जुगसालय) में प्रोफेसर एवं प्राचार्य के 29 पदों के सृजन की स्वीकृति

विभावि के पांच नए डिग्री कॉलेजों में प्राचार्य समेत 145 शिक्षकों के पद सृजित होंगे

चार करोड़ रुपये खर्च कर मंत्रियों के लिए खरीदी जाएंगी स्कॉट की गाड़ियां

अब स्कूलों में बच्चों को 5 दिन अंडे मिलेंगे