Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली
Saturday, May 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

लातेहार: बुढा पहाड़ इलाके में नक्सलियों के खिलाफ बड़ा अभियान, जंगल में लगातार हो रहे विस्फोट से ग्रामीणों में दहशत

लातेहार : झारखंड-छत्तीसगढ़ सीमा पर स्थित बुढ़ा पहाड़ इलाके में सुरक्षाबल नक्सलियों के खिलाफ बड़ा अभियान चला रहे हैं। इस बीच थलिया व तिसिया के जंगल में लगातार हो रहे विस्फोट से स्थानीय ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। बताया जा रहा है कि बुढ़ा पहाड़ इलाके में आज करीब 35 से 40 विस्फोट हुए हैं।

जिस इलाके में धमाका हुआ वह लातेहार, गढ़वा और छत्तीसगढ़ सीमा का पिनपॉइंट है। घटना के बाद सुरक्षाबलों द्वारा अलर्ट कर सघन अभियान चलाया जा रहा है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बताया जाता है कि बुढ़ा पहाड़ के इलाके में 25 लाख के इनामी माओवादी सौरभ उर्फ ​​मरकस बाबा के नेतृत्व में 40 से 50 की संख्या में नक्सली डेरा डाले हुए हैं। नवीन यादव, रवींद्र गंझू, मृत्युंजय भुइयां, संतू भुइयां जैसे शीर्ष माओवादियों के बुढ़ा पहाड़ के इलाके में पनाह लेने की खबर है।

माओवादियों के खिलाफ अब तक का सबसे बड़ा जांच अभियान 2018 के बाद से बूढ़ा पहाड़ क्षेत्र में शुरू किया गया है। इस अभियान के दौरान बुढापहाड़ से दूर थलिया और तिसिया में विस्फोट की घटना हुई है। इलाके की सुदूरता के कारण यह पता नहीं चल पाया है कि विस्फोट माओवादियों ने किया था या माओवादियों द्वारा लगाए गए बारूदी सुरंगों को सुरक्षा बलों ने नष्ट कर दिया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

बुढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों के खिलाफ अभियान का शुक्रवार को दूसरा दिन है। इस ऑपरेशन में बुढ़ा पहाड़ इलाके में सुरक्षा बलों की 40 से ज्यादा कंपनियां तैनात की गई हैं। जिसमें कोबरा, जगुआर असॉल्ट ग्रुप, सीआरपीएफ, जैप, आईआरबी को तैनात किया गया है। सीआरपीएफ जैप और आईआरबी ने इलाके की घेराबंदी कर रही है, जबकि कोबरा और जगुआर माओवादियों के खिलाफ हमले कर रहे हैं।