Breaking :
||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ की महिला ने एसपी से लगायी न्याय की गुहार, गांव वालों पर लगाया डायन कहकर प्रताड़ित करने का आरोप

Latehar Latest News Today

लातेहार : बालूमाथ थाना क्षेत्र के बालू गांव की एक महिला ने गांव के कुछ लोगों पर डायन बताकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। इस संबंध में महिला ने एसपी को आवेदन सौंपकर न्याय की गुहार लगायी है।

एसपी को सौंपे आवेदन में महिला ने बताया है कि 20 अगस्त को धवरा स्कूल के पास सखुआ पेड़ के नीचे कई ग्रामीणों ने ग्रामसभा बुलायी थी। जया भगत के नेतृत्व में लोगों ने उसे बीच में बैठाया, मुर्गा काटा, चावल छिड़का और कहा कि गांव की एक महिला डायन है। इसने दिनेश्वर के सात माह के बच्चे को खा लिया। अब यह प्रतिमा देवी की ओर जा रही है। इसके बाद शांति देवी और धनेश्वर देवी ने उसका बाल पकड़कर पीटना शुरू कर दिया। जब फूलमती, प्रतिमा और संपति कुमारी उसे बचाने के लिए आगे आयीं तो कुलेश्वर उरांव ने उन्हें डंडे से पीटना शुरू कर दिया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

ग्रामसभा के लोग उसे चुना लगाकर गांव में घुमाने वाले थे। लेकिन मुखिया भादे उरावं के कहने पर वे रुक गये। इसके बाद उन्होंने उसे घर से निकाल दिया और घर पर ताला लगा दिया। गांव में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया और सार्वजनिक बहिष्कार किया गया। वह अपने परिवार के साथ लातेहार के टेमकी गांव में अपने रिश्तेदार के यहां रह रही है।

Latehar Latest News Today