Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू में पुलिसकर्मियों को रौंदने का प्रयास, आरोपी चालक गिरफ्तार

पलामू : जिले में एक चेसिस ट्रक चालक ने पहले गलती से पुलिस गश्ती वाहन को टक्कर मार दी। तभी जब पुलिस ने उक्त वाहन को रोकने का प्रयास किया तो पुलिसकर्मियों को रौंदने का प्रयास किया गया। मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चेसिस ट्रक को जब्त कर लिया और आरोपी चालक बिरसानगर, जमशेदपुर निवासी हरजीत सिंह को गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया। घटना कल रात की है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार, गुरुवार की देर रात करीब डेढ़ बजे जिला मुख्यालय मेदिनीनगर सदर थाने की पुलिस राष्ट्रीय राजमार्ग-39 डालटनगंज-रांची मुख्य मार्ग स्थित जोरकाट व दुबियाखाड़ के बीच गश्ती कर रही थी, इसी क्रम में एक बड़े ट्रक की चेसिस पुलिस गश्ती वाहन से टकरा गयी। टक्कर के बाद चालक चेचिस लेकर भागने लगा। इसी क्रम में पुलिस की एक और गश्ती गाड़ी सामने से गुजर रही थी। गश्ती में शामिल पुलिस अधिकारियों और जवानों ने चेसिस को रोकने का प्रयास किया, जिसके बाद चालक ने चेसिस से पुलिसकर्मियों को कुचलने का प्रयास किया। इस घटना में सदर थाने में तैनात एएसआई सुबोध कुमार और चार पुलिसकर्मी घायल हो गये। पुलिस ने चियांकी पहाड़ के पास सड़क नाकाबंदी कर चेसिस ट्रक को रोका और आरोपी चालक को गिरफ्तार कर लिया।

घायल पुलिस अधिकारियों व कर्मियों का इलाज मेदिनीराय मेडिकल अस्पताल में कराया गया है। इलाज के बाद पुलिस अधिकारी और जवानों की हालत खतरे से बाहर है।