Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Thursday, April 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: ATS की टीम ने गैंगस्टर अमन श्रीवास्तव को मुंबई से किया गिरफ्तार

रांची : झारखंड के आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने कुख्यात गैंगस्टर अमन श्रीवास्तव को मुंबई से गिरफ्तार किया है। पुलिस मुख्यालय में मंगलवार को डीजीपी अजय कुमार सिंह, एडीजी अभियान संजय लाठकर व एटीएस एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता कर यह जानकारी दी।

डीजीपी ने कहा कि एटीएस को सूचना मिली थी कि हत्या, आतंक का पर्याय बने अंतरराज्यीय आपराधिक गिरोह का मास्टरमाइंड अमन श्रीवास्तव मुंबई में शरण ले रहा है। सूचना के बाद एटीएस की टीम को मुंबई भेजा गया, जहां महाराष्ट्र एटीएस की मदद से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। अमन श्रीवास्तव को मंगलवार को मुंबई कोर्ट में पेश किया गया, जहां न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद उसे रांची लाया जायेगा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

डीजीपी ने कहा कि पिछले सात-आठ सालों से अमन आतंक का पर्याय रहा है। इस गैंगस्टर के खिलाफ कुल 23 जघन्य आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें हत्या के दो, हत्या के प्रयास के चार, रंगदारी के 13, आर्म्स एक्ट के दो, यूएपी एक्ट का एक और भादवि की धारा 174 (ए) का एक मामला शामिल है। इसके अलावा इस गिरोह के खिलाफ प्रदेश के अन्य जिलों में और भी कई मामले दर्ज हैं, जिनकी जानकारी जुटायी जा रही है।

डीजीपी ने कहा कि गैंगस्टर राज्य के कोयला खनन क्षेत्र और विकास योजनाओं में काम करने वाली कंपनियों और कारोबारियों में भय और आतंक का माहौल पैदा कर लगातार रंगदारी मांगता था। रंगदारी के लिए फायरिंग व अन्य विध्वंसक वारदातों को अंजाम देता था। इससे व्यवसायियों व आम जनता में काफी भय व दहशत का माहौल बना हुआ है। डीजीपी ने बताया कि तकनीकी रूप से दक्ष यह अपराधी पिछले सात-आठ साल से अन्य राज्यों (तेलंगाना, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, गुजरात और मध्य प्रदेश) में ठिकाना बनाकर वारदात को अंजाम दे रहा था।

Jharkhand Aman Srivastava arrested