Breaking :
||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री||वन भूमि से कब्जा हटाने गयी टीम पर ग्रामीणों का हमला, पत्थरबाजी में वन क्षेत्र पदाधिकारी समेत एक दर्जन घायल||झारखंड में इस तारीख को मानसून की एंट्री, बारिश और वज्रपात का अलर्ट||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

रांची: आर्मी जमीन घोटाले के आरोपी IAS छवि रंजन निलंबित, अधिसूचना जारी

रांची : रांची के बरियातू में सेना की जमीन समेत अन्य भूमि घोटालों में आरोपी रांची के पूर्व डीसी आईएएस छवि रंजन को शनिवार को निलंबित कर दिया गया है। इस संबंध में कार्मिक, प्रशासनिक सुधार एवं राजभाषा विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है।

जारी अधिसूचना में कहा गया है कि आईएएस छवि रंजन को ईडी द्वारा गिरफ्तार किये जाने के बाद तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है। इस दौरान छवि रंजन को अखिल भारतीय सेवा (अनुशासन एवं अपील) नियमावली, 1969 के नियम के तहत निलंबन की अवधि में निर्वाह भत्ता दिया जायेगा।

छवि रंजन के निलंबन पर राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की भी सहमति मिल गई है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने राज्य के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह को इस संबंध में पत्र लिखा था और छवि रंजन के गिरफ्तारी के बाबत सूचना दी थी। इसके बाद ही राज्य सरकार के स्तर पर उनके निलंबन की कार्यवाही की गई। शनिवार की छुट्टी के बाद भी सचिवालय स्थित कार्य कार्यालय खोलकर आदेश जारी किया गया।

गौरतलब है कि छवि रंजन गुरुवार को पूछताछ के लिए ईडी ऑफिस पहुंचे थे। ईडी के अधिकारियों ने उनसे 10 घंटे तक पूछताछ की। संतोषजनक जवाब नहीं देने पर ईडी ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था।छवि रंजन को शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। इस दौरान ईडी ने पूछताछ के लिए न्यायालय से छवि रंजन का दस दिन का रिमांड मांगा। न्यायालय ने छह दिन के रिमांड की इजाजत दे दी। इससे पहले शुक्रवार को छवि रंजन को गिरफ्तार करने के बाद रांची सिविल कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत किया गया था। कोर्ट ने आईएएस रंजन को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

हाल के दिनों में ईडी के कार्यवाही के बाद पूजा सिंघल को भी निलंबित किया गया था उसके बाद छवि रंजन दूसरे ऐसे आईएएस हैं, जिन्हें निलंबित कर दिया गया है। अब भारत सरकार को भी छवि रंजन के निलंबन की सूचना दी जा रही है।

2011 बैच के इस आईएएस अधिकारी पर रांची के उपायुक्त के पद पर रहते हुए कई गंभीर आरोप लगे हैं।बरियातू रोड स्थित सेना के कब्जे वाली 4.55 एकड़ और चेशायर होम रोड की एक एकड़ जमीन की फर्जी दस्तावेज के आधार पर खरीद-बिक्री मामले में संलिप्त होने का आरोप है। इसके अलावा रांची के हेहल बजरा मौजा की एक विवादित जमीन की अवैध ढंग से रजिस्ट्री करवाने और चारदीवारी बनवाने का भी आरोप है।

Ranchi army land scam