Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

लातेहार: प्रसव पीड़ा से कराह रही महिला से ANM ने मांगे पैसे, सोने की बाली लेकर कराया प्रसव, महिला ने मरे हुए बच्चे को दिया जन्म

प्रदीप यादव/हेरहंज

पांच घंटे तड़पने के बाद एएनएम ने कराया प्रसव

लातेहार : जिले के हेरहंज प्रखंड मुख्यालय स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सह हेल्थ वेलनेस सेंटर में एएनएम के द्वारा प्रसव के नाम पर अवैध रुपयों की मांग की गयी। रुपये नहीं देने पर सोने की बाली खुलवाकर ले लिया गया। इसके बाद प्रसव कराया गया। जब पांच घंटे तड़पने के बाद प्रसव कराया गया तो महिला ने एक मरे हुए बच्चे को जन्म दिया। घटना सोमवार सुबह पांच बजे की है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार प्रखंड के घुर्रे गांव की एक महिला बेटी को प्रसव पीड़ा होने पर हेरहंज अस्पताल लेकर पहुंची। तभी वहां मौजूद एएनएम गुंजन भारती व अरुणा टोपो ने उक्त महिला से अठारह हजार रुपये की मांग की।

महिला की बेटी प्रसव पीड़ा से कराह रही थी। महिला के माता-पिता एएनएम से उसके इलाज की गुहार लगा रहे थे। लेकिन एएनएम द्वारा हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए कहा गया कि जब तक पैसे नहीं देंगे तब तक इलाज नहीं होगा। स्थिति को देख पीड़ित महिला के पिता पैसे का इंतजाम करने के लिए वहां से निकल गये। पैसे के एवज में वहां मौजूद पीड़िता की मां ने अपनी कान की बाली खोलकर एएनएम को दी, इसके बाद उसका इलाज शरू हुआ। इस दौरान पांच घंटे तक प्रसव पीड़ा से तड़पने के बाद उक्त महिला ने एक मरे हुए बच्चे को जन्म दिया।

प्रसव के बाद उसके पिता ने भी 2000 रुपये की व्यवस्था कर एएनएम गुंजन भारती को दे दी। प्रसव के बाद मरे हुए बच्चे की जन्म से माता-पिता बेहद दुखी थे। बाद में घटना की पूरी जानकारी पीड़ित महिला के माता-पिता ने परिजनों को दी। बुधवार को किसी तरह मामला मीडिया तक पहुंचा।

मामले को बढ़ता देख एएनएम ने गुरुवार की सुबह पीड़ित महिला के माता-पिता को अस्पताल बुलाया और उन्हें बालियां देना चाही, लेकिन माता-पिता ने बालियां लेने से इनकार कर दिया। जिसके बाद एएनएम सोने की बाली उनके सामने फेंक कर चली गयी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

हेरहंज अस्पताल में इस तरह के मामले लगातार देखने को मिल रहे हैं। एएनएम गुंजन भारती द्वारा डिलीवरी के पैसे लिए जाते हैं। बीते रविवार को भी सलैया पंचायत के हुरटाड़ निवासी रामेश्वर गंझू की पुतोहू का प्रसव कराया गया था। जिसमें गुंजन भारती द्वारा चार हजार की मांग की गयी थी। 2500 देने के बाद ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी गयी। बाद में मामला बढ़ता देख कुछ पैसे लौटा दिए गये।

इधर, मामले की जानकारी मिलते ही प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी सुरेश राम व बीडीओ प्रदीप कुमार दास मौके पर पहुंचे और पीड़ितों से घटना की जानकारी ली। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी श्री राम ने बताया कि घटना सत्य पायी गयी है। सभी के लिखित बयान ले लिए गए हैं, पूरी रिपोर्ट सीएस को भेजी जायेगी।

आपको बता दें कि लगातार डिलीवरी के नाम पर एएनएम गुंजन भारती और अरुणा टोपो के द्वारा पैसे लेने का मामला सामने आया है। पूर्व में भी उन पर इस तरह के आरोप लग चुके हैं। पीड़ितों ने जिले के उपायुक्त व सिविल सर्जन से कार्रवाई की मांग की है।