Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: युवा व्यवसायी हत्याकांड के विरोध में आक्रोशित लोगों ने थाने का घेराव कर किया प्रदर्शन

पलामू : छतरपुर थाना से महज 200 किलोमीटर दूर व्यवसायी शुभम गुप्ता की गोली मारकर हुई हत्या के बाद परिजन, व्यवसायी एवं स्थानीय लोगाें में भारी आक्रोश देखा जा रहा है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

हत्यारों की गिरफ्तारी और घटना को स्पष्ट करने की मांग को लेकर परिजन, व्यवसायी एवं स्थानीय लोगाें ने तीन घंटे तक थाने का घेराव किया। इस क्रम में थाना प्रभारी को बर्खास्त करो, डीएसपी मुर्दाबाद के नारे लगाये गये। हालांकि बाद में प्रशासनिक हस्तक्षेप से धरना प्रदर्शन समाप्त किया गया, लेकिन दुकानें अभी भी बंद हैं। छतरपुर की तरह हरिहरगंज और नौडीहा बाजार और पिपरा में भी बंद का असर रहा। व्यवसायियों ने अपनी अपनी दुकानें बंद रखी। हरिहरगंज में एनएच 98 पुराना बस स्टैंड के समीप सुबह 8 से 10 बजे तक शव के साथ दो घंटे तक सड़क जाम किया गया। अररूआ खुर्द कॉलेज मोड़ के पास भी सड़क जाम रखा गया था।

बताते चलें कि गुरूवार की दोपहर अपने पिता शंकर गुप्ता के साथ छतरपुर बाजार में कलेक्शन के लिए आए हरिहरगंज के युवा व्यवसायी शुभम गुप्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। बाइक सवार तीन अपराधियों ने कार का शीशा उतरवा कर ड्राइवर सीट के बगल में बैठे शुभम को करीब 9 गोलियां मारी थी।

छतरपुर अनुमंडलीय अस्पताल के बाद मेदिनीनगर के निजी अस्पताल और फिर रांची रिम्स ले जाने के क्रम में उनकी मौत हो गयी थी। मौत की सूचना के बाद परिजन, व्यवसायी एवं स्थानीय लोगांे ने छतरपुर में मुख्य सड़क को जाम कर दिया था। गुरूवार की देर रात शुभम के शव का एमआरएमसीएच में पोस्टमार्टम किया गया था। उसके शरीर में 9 जगह गोली लगने के निशान पाये गये थे, जबकि तीन बुलेट फंसी हुई मिली।

आन्दोलन का यह सिलसिला शुक्रवार को भी देखने को मिला। बड़ी संख्या में लोग सुबह सुबह सड़क पर उतर आये और थाना के गेट पर धरना प्रदर्शन किया। एसडीपीओ अजय कुमार ने बताया कि मामले में छानबीन तेज है। लीड मिली है, जल्द नतीजे पर पहुंचेंगे।

इधर जिले की एसपी रिष्मा रमेशन ने घटना की जांच के लिए एसआइटी का गठन किया है, जिसमें एसडीपीओ अजय कुमार के अलावा इंस्पेक्टर वीर सिंह मुंडा, हरिहरगंज थाना प्रभारी सुदामा कुमार दास, छतरपुर थाना प्रभारी शेखर कुमार, नौडीहा बाजार थाना प्रभारी अमन कुमार, पिपरा थाना प्रभारी अमित कुमार, एसआई रंजीत कुमार और प्रियरंजन कुमार शामिल हैं।

Palamu businessman murder case