Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Sunday, April 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कांग्रेस में कलह, नाराज विधायक आलाकमान से मिलने दिल्ली रवाना

Jharkhand Latest Political News

रांची : कांग्रेस के नाराज विधायक बिरसा चौक स्थित होटल रासो में शनिवार को आगे की रणनीति तैयार किया। इनमें विधायक दीपिका सिंह पांडेय, अंबा प्रसाद, डॉ इरफान अंसारी, राजेश कच्छप, भूषण बारा, उमाशंकर अकेला, सोना राम सिंकू, कुमार जयमंगल सिंह उर्फ अनूप सिंह सहित अन्य शामिल हैं। इस बीच मंत्री बसंत सोरेन नाराज विधायकों को मनाने पहुंचे। बसंत सोरेन ने नाराज विधायकों की बात सुनी और उनकी नाराजगी दूर करने की कोशिश की। लेकिन कांग्रेस के 10 विधायक आलाकमान से मिलने दिल्ली चले गये।

विधायकों से मुलाकात के बाद बसंत सोरेन ने कहा कि परिवार एकजुट था और अब भी है। नाराज विधायकों की बात सुनी गयी है और उनकी नाराजगी दूर कर दी गयी है। विधायकों का आलाकमान से मिलने का समय पहले से तय था, इसलिए वे दिल्ली जा रहे हैं।

विधायक सोना राम सिंकू ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रदेश प्रभारी के साथ हुई बैठक में कोई हल नहीं निकला। हल तो निकालना पड़ेगा। यदि हाईकमान चाहेगा तो वह कुछ भी संभव है। पहले भी चारों मंत्रियों को हटाने की बात चल रही थी। नये चेहरे को लेकर बात हुई थी लेकिन अचानक से 16 फरवरी को पुराने लोगों को मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया। विधायक अंबा प्रसाद ने कहा कि सारी बातें हम लोग मीडिया के सामने पहले ही रख चुके हैं। हमारे सभी साथी इकट्ठा हुए हैं। हम लोग एक साथ बाहर जायेंगे। पहले दिल्ली उसके बाद कहीं और जाने की तैयारी है।

विधायक राजेश कच्छप ने कहा कि हम सभी बैठकर मंथन कर रहे हैं। अपनी भावना से पार्टी की राष्ट्रीय नेतृत्व को अवगत करायेंगे। आलाकमान का 16 फरवरी को निर्देश था कि हम सभी शपथ ग्रहण समारोह में जायें। हम सभी ने राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देशों का पालन किया। अब हमारी बातों को भी हाईकमान को सुनना होगा। हर घर में अभिभावक होते हैं और बच्चे अपनी भावनाओं से अभिभावक को अवगत कराते हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस के 17 विधायकों में 12 विधायक नाराज हैं। उनकी नाराजगी की वजह कांग्रेस के पूर्व मंत्रियों को रिपीट किये जाने को लेकर है।

Jharkhand Latest Political News