Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Sunday, June 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: सभी स्तर के स्कूल होंगे अपग्रेड, शिक्षा मंत्री ने मांगी रिपोर्ट

रांची : झारखंड सरकार दूरी और जनसंख्या के आधार पर राज्य में हाई स्कूल और प्लस टू हाई स्कूलों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सभी स्तरों पर स्कूलों का उन्नयन करेगी। इसके तहत चिन्हित मिडिल स्कूलों को हाई स्कूल और हाई स्कूल को प्लस टू हाई स्कूल में अपग्रेड किया जाएगा।

स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के मंत्री जगरनाथ महतो के निर्देश पर विभाग ने इस संबंध में सभी जिलों से रिपोर्ट मांगी है। कुछ जिलों से मिडिल स्कूलों को हाई स्कूल में बदलने की रिपोर्ट पहले ही मिल चुकी है। विभाग ने शेष जिलों को तुरंत रिपोर्ट देने को कहा है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

साथ ही सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को हाईस्कूलों को प्लस टू स्कूलों में बदलने के संबंध में त्वरित रिपोर्ट देने को भी कहा है। सभी जिलों से रिपोर्ट मिलने के बाद उस पर प्रशासकीय पदवर्ग समिति और कैबिनेट की मंजूरी ली जाएगी।

इससे पहले झारखंड में कुल 635 हाई स्कूलों को संयुक्त बिहार से प्लस टू में अपग्रेड किया गया है। इनमें पिछले साल अपग्रेड किए गए 125 प्लस टू हाई स्कूल शामिल हैं।

पिछले साल अपग्रेड किए गए प्लस टू स्कूलों के अलावा अपग्रेड किए जाने वाले स्कूलों में प्रिंसिपल, पोस्ट ग्रेजुएट ट्रेन्ड टीचर्स, लेबोरेटरी असिस्टेंट, क्लर्क और आदेशपाल के पद सृजित किए जाएंगे। प्रत्येक विद्यालय में 11-11 शिक्षक एवं प्रयोगशाला सहायक, लिपिक एवं आदेश मास्टर के एक-एक पद सृजित किए जाएंगे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

बता दें कि प्रदेश के अपग्रेडेड प्लस टू हाई स्कूल में वर्ष 2007-08 से अभी तक प्राचार्य के पद सृजित नहीं हुए हैं। हालांकि पिछले वर्ष को छोड़कर अन्य वर्षों में अपग्रेड किए गए स्कूलों में शिक्षकों के पद सृजित किए गए हैं।