Breaking :
||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: राज्य के 57 रेलवे स्टेशनों पर एयरपोर्ट जैसी मिलेंगी सुविधायें, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा- राज्य सरकार करे सहयोग तो तय समय पर पूर्ण होंगी योजनायें

रांची : प्रदेश के 57 रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को एयरपोर्ट जैसी आधुनिक सुविधायें मिलेंगी। अमृत-भारत योजना के तहत सरकार ने स्टेशनों में सुविधायें बढ़ाने का फैसला किया है। इसके लिए अलग से बजट तैयार किया गया है और इसे मंजूरी भी मिल गयी है। योजना के तहत झारखंड के 57 रेलवे स्टेशनों की व्यवस्था में सुधार किया जायेगी। इस पर 176.53 करोड़ रुपये व्यय करने का प्रस्ताव है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

झारखंड में रेलवे संचालन में सुधार और बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के उद्देश्य से अमृत-रेल योजना के तहत 5,271 करोड़ रुपये दिये गये हैं। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि झारखंड को केंद्रीय बजट से राज्य के रेलवे बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए 5,271 करोड़ रुपये आवंटित किये गये हैं। झारखंड के लिए वार्षिक औसत बजट आवंटन 2009 और 2014 के बीच राज्य को प्राप्त बजट से लगभग 11 गुना अधिक था।

केंद्र सरकार स्टेशन पर आधुनिक सुविधायें उपलब्ध कराने और झारखंड राज्य में रेलवे परिचालन को बेहतर बनाने पर ध्यान दे रही है। रेल मंत्री वैष्णव ने पहले ही कहा था कि राज्य सरकार भूमि अधिग्रहण, वन मंजूरी और कानून व्यवस्था में सहयोग करे, ताकि इन परियोजनाओं को जल्द पूरा किया जा सके। केंद्र सरकार इन योजनाओं पर तेजी से काम करना चाहती है, ताकि तय समय से पहले इन योजनाओं को पूरा किया जा सके।

जिन स्टेशनों पर यह काम होगा उनमें चक्रधरपुर मंडल के अंतर्गत आने वाले टाटानगर रेलवे स्टेशन के साथ ही बड़ाजामदा, बरकाकाना, मनोहरपुर, घाटशिला, चांडिल, राजखरसावां, मुरी, सीनी स्टेशन शामिल हैं। टाटानगर से गोड्डा के बीच चलने वाली साप्ताहिक ट्रेन के समय में 20 मार्च से बदलाव किया गया है। इसके तहत यह ट्रेन दोपहर 2 बजे की बजाय दोपहर 2.35 बजे रवाना होगी। इसी तरह कई ट्रेनों के समय में बदलाव किया गया है या उनके रुकने के समय में बदलाव किया गया है।

Jharkhand railway stations airport