Breaking :
||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत||बालूमाथ: शार्ट सर्किट से हाइवा वाहन में लगी आग, जलकर राख||बालूमाथ: महिला का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ठगे सात लाख रुपये, गिरफ्तार||बालूमाथ: सरस्वती पूजा को लेकर निकाली गयी शोभायात्रा पर मधुमक्खियों का हमला, मची अफरा-तफरी||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा पांच हाइवा जब्त, तीन गिरफ्तार||लातेहार: अब मनिका के डुमरी में दिखा आदमखोर तेंदुआ, गांव में मचा कोहराम, घर में दुबके लोग||लातेहार: किडजी प्री स्कूल में “विद्यारंभ संस्कार” का आयोजन, अभिभावक आमंत्रित||रांची: 10 लाख का इनामी PLFI सब जोनल कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरफ्तार||राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर झारखंड पुलिस के 22 अधिकारियों और कर्मचारियों को करेंगे सम्मानित||आईईडी ब्लास्ट में फिर एक जवान घायल, लाया गया रांची

लोहरदगा में गिरफ्तार माओवादी सब जोनल कमांडर की निशानदेही पर भारी मात्रा में अत्याधुनिक हथियार व गोलियां बरामद

लोहरदगा : लोहरदगा जिले के बगड़ू थाना क्षेत्र के कोरगो गांव और आसपास के जंगल में गुरुवार को 15 लाख के इनामी नक्सली रवींद्र गंझू के किसी गंभीर घटना को अंजाम देने के लिए एकत्र होने की सटीक सूचना मिलने पर तत्काल तलाशी अभियान शुरू किया गया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों की नक्सलियों से भीषण मुठभेड़ हुई थी। इसके बाद अभियान दल द्वारा कोरगो जंगल में तलाशी अभियान चलाया गया। तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया। जिसमें घायल हुए एक नक्सली ने अपना नाम चंद्रभान पाहन और दूसरे नक्सली ने गोविंद बिरजिया बताया। दोनों भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर हैं। घायल उग्रवादी चंद्रमन पाहन की इलाज के दौरान मौत हो गयी।

इधर जारी तलाशी अभियान के दौरान आज गिरफ्तारसब जोनल कमांडर गोविंद बिरजिया की निशानदेही पर भारी मात्रा में अत्याधुनिक हथियार समेत गोला-बारूद बरामद किया गया। तलाशी अभियान में अब तक एक इंसास राइफल, एक एसएलआर राइफल, दो 303 राइफल, एक सेमी-ऑटोमैटिक राइफल और 500 से ज्यादा गोलियां बरामद की गयी हैं।

सुरक्षाबलों द्वारा कल तलाशी अभियान में दैनिक उपयोग की सामग्री के साथ बड़ी मात्रा में आईईडी, कोडेक्स तार, हथियार कारतूस, नक्सली कागजात, मोबाइल फोन, दवा और दो पिट्ठू बरामद किये गये। सुरक्षाबलों द्वारा पूरे इलाके की घेराबंदी कर सघन तलाशी अभियान अभी भी जारी है। झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ बल कुशल नेतृत्व, रणनीति और दृढ़ संकल्प के साथ नक्सलियों के खिलाफ लगातार अभियान चला रहे हैं।