Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में बोलेरो ने बाइक में पीछे से मारी टक्कर, दो IRB जवान समेत चार घायल, दो रिम्स रेफर, सड़क जाम||पलामू में ट्रक ने झामुमो नेता के रिश्तेदार को रौंदा||झारखंड में बड़ा सड़क हादसा, तीन की मौत, सात घायल||झारखंड में लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 65.40 फीसदी वोटिंग, गिरिडीह और धनबाद में महिलाएं तो रांची और जमशेदपुर में पुरुषों ने मारी बाजी||बड़ी घटना को अंजाम देने आये अमन साहू गिरोह के चार शूटर चढ़े पुलिस के हत्थे||प्रेमी ने शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण, धोखा बर्दाश्त नहीं कर पायी प्रेमिका, की जान देने की कोशिश, मामला दर्ज||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर 62.13 फीसदी वोटिंग, सबसे अधिक जमशेदपुर, सबसे कम रांची में मतदान||झारखंड में कल से दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर, लातेहार, गढ़वा, पलामू व चतरा जिले में भी असर||लातेहार: दुकान में चोरी करने आये तीन चोर आग में झुलसे, एक की मौत, दो गंभीर||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला
Monday, May 27, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

PLFI के नाम पर मैगी फैक्ट्री के मालिक से 2 करोड़ की रंगदारी मांगने के आरोप में 4 गिरफ्तार

रांची : पुलिस ने उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के एरिया कमांडर राजेश गोप के नाम पर राजधानी के तुपुदाना क्षेत्र में मैगी फैक्ट्री के मालिक से दो करोड़ की रंगदारी मांगने के मामले का खुलासा करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

गिरफ्तार आरोपियों में शिवशंकर केसरी, तस्लीम अंसारी, सुहैल अंसारी और मंजूर आलम शामिल हैं। सभी आरोपी नगड़ी थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। गिरफ्तार आरोपियों ने फैक्ट्री के अंदर पीएलएफआई के नाम पर उड़ाने की धमकी वाला एक पर्चा फेंक दिया था, जिसके बाद उन्होंने फोन कर मालिक से रंगदारी की मांग की थी। पुलिस ने आरोपियों के पास से एक डिजायर, एक मोटरसाइकिल, एक पीएलएफआई का पैम्फलेट और कई अन्य सामान भी बरामद किया है।

प्रेस वार्ता में एसएसपी किशोर कौशल ने बताया कि दो दिन पूर्व हुई घटना के बाद मामले का खुलासा करने व आरोपित की गिरफ्तारी को लेकर तुपुदाना थाने में प्राथमिकी दर्ज कर हटिया डीएसपी के नेतृत्व में टीम गठित की गयी।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

शिवशंकर केसरी, तस्लीम अंसारी और मंजूर आलम को टीम ने उस वक्त गिरफ्तार किया जब तीनों आरोपी फैक्ट्री मालिक से रंगदारी वसूलने नगड़ी नयासराय पहुंचे थे। इनकी निशानदेही पर ही सुहैल अंसारी को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होंने बताया कि शिवशंकर केसरी, तस्लीम अंसारी और मंजूर आलम का आपराधिक इतिहास रहा है। तीनों के खिलाफ नगड़ी, रातू और एससी एसटी थाने में करीब आधा दर्जन मामले दर्ज हैं।