Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

भारतीय प्रशासनिक सेवा के 16 अधिकारियों को मिली पदोन्नति

रांची : झारखंड सरकार ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को अधिसमय वेतनमान में उन्हें पूर्व में प्रदत्त प्रोन्नति के संदर्भ में पुनरीक्षित बैच के अनुसार प्रोन्नति वैचारिक रूप से प्रदान करने की स्वीकृति दी है।

सुप्रीम कोर्ट ने इस संबंध में 2017 में ही एक न्यायादेश जारी किया था, जिसके बाद कार्मिक मंत्रालय भारत सरकार ने राज्य सरकार को पत्र लिखा था। इसके अनुसार 15 फरवरी, 2018 के माध्यम से एक फरवरी, 2010 से 18 अप्रैल. 2012 के बीच की रिक्तियों के विरुद्ध राज्य सेवाओं से राज्य सेवा से भाप्रसे में नियुक्त पदाधिकारियों की पुनरीक्षित पारस्परिक वरीयता, बैच के आलोक में पदाधिकारियों को वैचारिक प्रमोशन दिया गया है। इनमें अधिकांश अधिकारी अभी सेवानिवृत हो गये हैं।

पांच आईएएस को एक जनवरी, 2014 की तिथि से प्रमोशन दिया गया है। इनमें सुधांशु भूषण राम, बीना श्रीवास्तव, हंसराज सिंह, समसोन सोय, फिदेलिस टोप्पो, जॉन पॉस्कल लकड़ा, बालेश्वर सिंह शामिल हैं।बालेश्वर सिंह को 11 फरवरी 2016, संतकुमार वर्मा को एक जनवरी 2016, दिनेश चंद्र मिश्र को जनवरी 2016 की तिथि से प्रमोशन दिया गया है।

जनवरी 2017 की तिथि से प्रमोशन

प्रमोद कुमार गुप्ता, सुरेंद्र कुमार, शुभ्रा वर्मा, गौरीशंकर मिंज, मनोज कुमार, भगवान दास, श्रवण साय शामिल हैं।